नगर निगम ने ब्रह्मपुरी में एक मकान को सील किया था, जिसका ताला हाजी इशराक ने तोड़ दिया. इसका वीडियो सामने आने के बाद विधायक हाजी इशराक और मकान मालिक पर मुकदमा दर्ज किया गया है.

आम आदमी पार्टी (आप) विधायक हाजी इशराक पर मुकदमा दर्ज किया गया है. उन पर सीलिंग तोड़ने का आरोप है. नगर निगम ने ब्रह्मपुरी में एक मकान को सील किया था, जिसका ताला हाजी इशराक ने तोड़ दिया. इसका वीडियो सामने आने के बाद विधायक हाजी इशराक और मकान मालिक पर मुकदमा दर्ज किया गया है.

‘आजतक’ से बात करते हुए विधायक हाजी इशराक ने कबूल भी किया था कि उन्होंने ही सीलिंग तोड़ी. हालांकि, विधायक ने इसे गलत मानने से इनकार कर दिया.

गौरतलब है कि दिल्ली में अवैध निर्माण का मसला दिल्ली हाईकोर्ट पहुंच गया था. हाइकोर्ट ने अवैध निर्माण के खिलाफ कार्रवाई के लिए एमसीडी को 2005 में ही निर्देशित किया था. हाईकोर्ट के आदेश के बावजूद जब एमसीडी ने कार्रवाई नहीं की और उसका रुख लचीला बना रहा, तो मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा.

सुप्रीम कोर्ट ने सन 2006 में अवैध निर्माण की सीलिंग करने के आदेश जारी किए. इसके बाद दुकानों या कॉमर्शियल प्रॉपर्टी को सीलिंग से बचाने के लिए सरकार ने बीच का रास्ता निकालते हुए कन्वर्जन चार्ज का प्रावधान कर कारोबारियों को राहत दिलाने का प्रयास किया.

Source: aajtak.intoday.in

Add Your Comment